Sunday, November 25, 2018

Main 21 Digital Marketing Courses Available in India

6 comments
भारत में उपलब्ध मुख्य 21 डिजिटल मार्केटिंग पाठ्यक्रम

जिस तरह से दुनिया भर में इंटरनेट इस्तेमाल करने वालों की संख्या 3.74 बिलियन से ज़्यादा हो गई है और लगातार बढ़ती जा रही है, इसके साथ-साथ अब लोग चीज़ों को ऑनलाइन चुनकर ही खरीदने लगे हैं। दनिया भर में व्यवसाय बढ़ता जा रहा है और अब डिजिटल मार्केटिंग पूरे मार्किंग क्षेत्र का सबसे ज़रूरी हिस्सा बन गई है और ऑनलाइन ही लोग ज़्यादा खरीदारी करने लगे हैं। इस तरह से डिजिटल मीडिया मार्केटिंग सेवाओं में बहुत विकास हुआ है, जिसकी वजह से इस क्षेत्र में ज़रूरी तकनीकी ज्ञान और अनुभव रखने वाले प्रशिक्षित पेशेवर लोगों की माँग भी बढ़ गई है।

खासतौर पर भारत में उद्योग बढ़ने की अभी बहुत संभावनाएँ हैं और यहाँ पर प्रशिक्षत पेशेवरों की बहुत ज़रूरत है। कई विद्यार्थी, स्नातक और नौजवान पेशेवर डिजिटल मार्केटिंग में अपने करियर की तलाश कर रहे हैं। इस वजह से डिजिटल मार्केटिंग में कोर्स की ज़रूरतें बढ़ गई हैं, ताकि इस क्षेत्र में आगे बढ़ने के लिए उन्हें सही ज्ञान और प्रशिक्षण दिया जा सके। आज डिजिटल मीडिया पर लाखों किताबें लिखी जा सकी हैं ।

इस कोर्स की माँग बढ़ने के चलते कई कंपनियों और संगठनों ने डिजिटल मार्केटिंग पर अलग-अलग कोर्स करवाने शुरू कर दिए हैं। डिजिटल मार्केटिंग एक बहुत बढ़ा क्षेत्र है और इसमें कई तरह के कोर्स करवाए जाते हैं, जिनमें डिसप्ले एडरवरटाइज़िंगसर्च इंजन मार्केटिंग(एसईएम) और सर्च इंजन ऑप्टिमाइज़ेशन(एसईओ)सोशल मीडिया मार्केटिंग(एसएमएम), ईमेल मार्केटिंग, मोबाइल मार्केटिंग और इनसे जुड़े मार्केटिंग के दूसरे कोर्स करवाए जाते हैं। यह सब कोर्स अपने आप में एक अलग फ़ील्ड हैं और यहाँ पर इनके बारे में अलग-अलग विषयों के मुताबिक प्रशिक्षण दिया जाता है। नीचे कुछ ऐसे खास इंस्टीट्यूट से जुड़े दिशानिर्देश दिए गए हैं, जिन्हें आप कोर्स करने के लिए चुन सकते हैं। चूँकि यह एक बढ़ा लेख है। इसलिए हमने इसके अलग-अलग सेक्शन बना दिए हैं ताकि आप आसानी से नेविगेट करके इसे पढ़ सकें।

  • डिजिटल मार्केटिंग कोर्स का मूल्यांकन करने से जुड़े मानदंड
  • भारत में ऑनलाइन डिजिटल मार्केटिंग कोर्स
  •  ऑनलाइन बनाम क्लासरूम कोर्स 
  • क्लासरूम और ऑफ़लाइन कोर्स 
  • डिजिटल मार्केटिंग पर एग्ज़िक्यूटिव प्रोग्राम
  • ग्लोबल ऑनलाइन डिजिटल मार्केटिंग कोर्स
भारत में सही डिजिटल मार्केटिंग कोर्स चुनने के तरीके पर छोटे वीडियो में दिए गए दिशानिर्देश:
आपको सोशल मीडिया और डिजिटल मार्केटिंग कोर्स का मूल्यांकन करने के लिए यह मानदंड अपनाना चाहिए
ऑनलाइन या ऑफ़लाइन कोई डिजिटल मार्केटिंग कोर्स चुनने से पहले यहाँ पर कुछ प्वाइंटर दिए गए हैं, जिनके ज़रिए आप अपना पसंदीदा इंस्टीट्यूट या कोर्स चुन सकते हैं।
  • सर्टीफ़िकेशन: सर्टिफ़िकेशन सीधे गए ज्ञान और उद्योग के मामले में खुद हासिल किए गए अनुभव का विकल्प नहीं हो सकता, लेकिन फिर भी अगर कोई नया व्यक्ति इस फ़ील्ड में काम करना चाहता है या इस फ़ील्ड को अपना करिअर बनाना चाहता है, तो यह उनके सीवी के लिए बहुत ज़रूरी है। अलग-अलग शैक्षणिक संस्थानों और कॉर्पोरेट की ओर से करवाए जा रहे सर्टिफ़िकेशन कोर्स को अपनाएँ।
  • पूरा कोर्स और शिक्षा देने वाले पेशेवरों का अनुभव: मौजूदा उद्योग के रुझानों और गतिविधियों, ट्रेनिंग मॉड्यूल और पेशेवरों के अनुभव के आधार पर संस्थान या उसकी ओर से उपलब्ध करवाए जा रहे कोर्स का मूल्यांकन करें।
  • समीक्षाएँ और सुझाव: ऑनलाइन पोर्टल या चर्चा फ़ोरम के ज़रिए उद्योग के विशेषज्ञों और पुराने विद्यार्थियों के बारे में समीक्षाओं और सुझावों को देखे। जब भी संभव हो सीधे सुझाव लेने के लिए पुराने विद्यार्थियों से लिक्ंडइन/ट्वीटर पर बात करके देखें।
  • प्लेसमेंट: डिजिटल मार्रकेटिंग कौशल पर लाइव प्रोजेक्ट और सीधा अनुभव पाने के लिए संस्थान की ओर से दिए जा रहे प्लेसमेंट के अवसर या दूसरे संस्थानों के साथ उसके संबंधों के बारे में जानें।
यहाँ पर कुछ ऐसी लोकप्रिय वेबसाइटों/कंपनियों/संस्थाओं के बारे में जानकारी दी गई है, जो डिजिटल मीडिया का कोर्स (किसी खास क्रम में नहीं) उपलब्ध करवाते हैं, अगर आप ऐसे ही किसी संस्थान को खोज रहे हैं तो इससे आपको काफ़ी मदद मिल सकती है। कृपया भारत में मौजूद प्रमुख डिजिटल मार्केटिंग ब्लॉग के बारे में हमारी पोस्ट भी पढ़ें, क्योंकि इन ब्लॉग की मदद से आप काफ़ी कुछ सीख सकते हैं।

भारत में ऑनलाइन डिजिटल मार्केटिंग कोर्स
1.) मणिपाल प्रोलर्न:
मणिपाल ग्लोबल एजुकेशन सर्विसेस एक ऐसा प्रतिष्ठित संगठन है, जो डिजिटल मार्केटिंग पर ऑनलाइन और क्लासरूम आधारित कोर्स उपलब्ध करवाता है। इनके ऑनलाइन कोर्स में 30 घंटों में डिजिटल मार्केटिंग के कई पहलुओं जैसे कि एसईओ, एसईएम, ओआरएम और विश्लेषिकी, के बारे में शिक्षा दी जाती है। ऐसे लोग गूगल ऐडवर्ड्स और बेहतर ऑनलाइन मार्केटिंग तकनीक सीखने में रुचि रखते हैं, वे इन डिजिटल मार्केटिंग प्रोफ़ेशनल प्रोग्राम में शामिल हो सकते हैं – यहाँ मणिपाल प्रोलर्न और गूगल इंडिया दोनों कंपनियाँ मिलकर ई-लर्निंग कार्यक्रम, क्लासरूम ट्रैनिंग और लाइव प्रोजेक्ट की सुविधा उपलब्ध करवाती हैं।
2.) टैलेंटऐज:
टैलेंटऐज एमआईसीए, अहमदाबाद की ओर से खास डिजिटल मीडिया पर खास एग्ज़िक्यूटिव प्रोग्राम उपलब्ध करवाता है, यह प्रोग्राम शुरुआत करने वाले लोगों और काम करने वाले प्रोफ़ेशनल दोनों के लिए है। इनका दावा है कि इन्होंने 8,00,000 से ज़्यादा पंजीकृत लोगों को शिक्षा दी है, इन्हें लाइव लेक्चर, केस स्टडी की सुविधा दी गई है। इनकी सामग्री या कोर्स को एमआईसीए के शिक्षकों और उद्योग के विशेषज्ञों ने तैयार किया है। एमआईसीए की ओर इस समय अमित किशोर सीनियर फ़ैकल्टी मेंबर हैं और उन्हें भारत, मीडिल ईस्ट और वेस्ट अफ़्रीका साथ ही साउथ ईस्ट एशिया में खास मीडिया प्लानिंग और मीडिया रिसर्च के क्षेत्र में 18 साल से ज़्यादा का अनुभव है।
डिजिटल विद्या एशिया की सबसे बड़ी डिजिटल मार्केटिंग कंपनियों में से एक है और उसने भारत में सबसे पहले सोशल मीडिया मार्केटिंग कोर्स उपलब्ध करवाया था। वे दावा करते हैं कि वे 2009 के बाद से फ़िलिप्स, गूगल, ईबे, रिलायंस, स्टार टीवी, किस्को, एसएपी, नौकरी, सिटीबैंक, जीएम, टोयोटा, आईटीसी, सीएनबीसी, एनआईआईटी, आईआईएम अहमदाबाद और आईआईएम लखनऊ जैसे 10,000 से ज़्यादा संगठनों और संस्थानों में 20,000 से ज़्यादा भागीदारियाँ कर चुके हैं। इन्होंने 1,200 से ज़्यादा डिजिटल मार्केटिंग ट्रेनिंग प्रोग्राम करवाए हैं।
डिजिटल विद्या, वी-स्कील्स भारत सरकार के साथ मिलकर डिजिटल मार्केटिंग (सीडीएमएम), मोबाइल मार्केटिंग (सीएमएमएम) और सोशल मीडिया मार्केटिंग सर्टिफ़िकेशन प्रोग्राम (सीएसएमएमपी) जैसे कार्यक्रम ऑफ़र करता है। यह ऐसे लोगों के लिए साप्ताहिक डिजिटल मार्केटिंग के सत्र आयोजित करता है, जो जानना चाहते हैं कि वे डिजिटल मार्केटिंग के ज़रिए अपना कैरियर कैसे बना सकते हैं या अपना व्यवसाय कैसे बढ़ा सकते हैं। उनके पास अपने होनहार विद्यार्थियों के लिए डिजिटल मार्केटिंग रोज़गार के अवसर उपलब्ध करवाने के लिए अपना प्लेसमेंट सेल है।
सिम्पलीलर्न ऑनलाइन ट्रेनिंग और पेशेवर सर्टिफ़िकेश प्रोग्राम के लिए सबसे बड़े प्लैटफ़ॉर्म में से एक है। ये डिजिटल मीडिया से जुड़े लगभग 30 कोर्स उपलब्ध करवाते हैं, जहाँ अलग-अलग डिजिटल मीडिया मार्केटिंग डोमेन का सीधा अनुभव दिया जाता है। ओएमसीपी की ओर से मान्यता प्राप्त इन कोर्स के ज़रिए काम करने वाले पेशेवरों को डिजिटल मीडिया से संबंधित कौशल का ज्ञान देकर इस पेशेवर फ़ील्ड में हमेशा आगे रहने के लिए तैयार किया जाता है।
इंटरनेट एंड मीडिया रिसर्च इंस्टीट्यूट का हेडक्वाटर बैंगलुरू में है, यह एक अंतर्राष्ट्रीय डिजिटल मीडिया ट्रेनिंग सेंटर है। आईएमआरआई एसईओ, पीपीसी, विज्ञापन, एसएमएम और वेब एनालिटिक्स की फ़ील्ड में छह महीने का प्रोफ़ेशनल प्रोग्राम उपलब्ध करवाता है। इसमें डिजिटल मार्केटिंग (ईपीडीएम) का कोर्स करवाया जाता है साथ ही वह ऐसे लोगों को एक साल का ग्रैजुएट प्रोग्राम भी उपलब्ध करवाता है, जो डिजिटल मार्केटिंग में अपना करिअर अभी शुरू करना चाहते हैं।
ऑल इंडिया मैनेजमेंट एसोसिएशन (एआईएमए), डिजिटल विद्या के साथ मिलकर डिजिटल मार्केटिंग और एनालिटिक्स की फ़ील्ड में सर्टिफ़िकेशन प्रोग्राम उपलब्ध करवाता है। इस कोर्स में मुख्य रूप से ईमेल मार्केटिंग, एसईओ/एसईएम, पे पर क्लिक, एफ़िलिएट मार्केटिंग, डिजिटल डिसप्ले, मोबाइल मार्केटिंग, ऑनलाइन वीडियो और सोशल मीडिया एनालिटिक्स से जुड़ी फ़ील्ड के बारे में मार्केटिंग टूल के ज़रिए शिक्षा दी जाती है। यह कोर्स तीन महीने का है, यह ऑनलाइन कोर्स 6 मॉड्यूल में रखा गया है, इसमें 36,000 + सर्विस टैक्स का खर्च आता है।
डिजिग्यान, एक डिजिटल मीडिया संस्थान है, यह दिल्ली एनसीआर में संचालित किया जाता है। यहाँ ई-कॉमर्स और डिजिटल मार्केटिंग कोर्स के बारे में विद्यार्थियों, पेशेवर लोगों, उद्योगपतियों और कॉर्पोरेट के लोगों को ट्रेनिंग दी जाती है। इस ऑनलाइन कोर्स को इंटरनेट और मोबाइल एसोसिएशन ऑफ़ इंडिया (आईएएमएआई) संचालित करता है।
डिजिटल मार्केटिंग के लिए ऑनलाइन और क्लासरूम कोर्स के बीच चुनाव कैसे किया जाए
ज़्यादातर लोगों ऑनलाइन कोर्स करना पसंद करते हैं, खासतौर पर पेशेवर लोग, क्योंकि इस तरह उन्हें अपना घर/ऑफ़िस छोड़कर ट्रेनिंग सेंटर में नहीं जाना पड़ता और उन्हें अपने मुताबिक ट्रेनिंग मिल जाती है। ऐसे शहर जहाँ अच्छे क्लासरूम ट्रेनिंग कोर्स की सुविधा नहीं दी जा सकती, वहाँ इस तरह के कोर्स से लोगों को काफ़ी फ़ायदा होता है।
तकनीक बेहतर होने के साथ-साथ ऑनलाइन निर्देशकों के ज़रिए करवाए जा रहे वर्चुअल क्लासरूम कोर्स काफ़ी बेहतर हो गए हैं, ये सही में एक क्लास की तरह ही लगते हैं। यहाँ वेबिनार सॉफ़्टवेयर की तकनीक से विद्यार्थियों और शिक्षक आपस में ढंग से बात कर पाते हैं। ऐसे लोग जो सेशन में शामिल नहीं हो पाते, उनके लिए वेबिनार रिकॉर्डिंग की सुविधा भी उपलब्ध है।
अगर आप सिर्फ़ क्लासरूम में ही शिक्षा पाना पसंद करते हैं या आप वेबिनार की इस तकनीक से शिक्षा पाने में ठीक महसूस नहीं करते, तो आपके लिए क्लासरूम ही सही विकल्प है।
डिजिटल मार्केटिंग के लिए क्लासरूम और ऑफ़लाइन कोर्स
ऐसे लोग जो ऑनलाइन ट्रेनिंग के लिए क्लासरूम का तरीका पसंद करते हैं, उनके लिए यहाँ ऐसे संस्थानों की सूची दी गई है, जो इस तरह से भारत के कई शहरों में डिजिटल मार्केटिंग का कोर्स और वर्कशॉप करवाते हैं:
एनआईआईटी इंपीरिया डिजिटल मार्केटिंग इंस्टीट्यूट (डीएमआई) आयरलैंड के साथ मिलकर ग्रैजुएटर लोगों और पेशेवरों के लिए देश के कई शहरों में प्रोफ़ैशनल डिप्लोमा उपलब्ध करवाता है। यह कोर्स फ़र्दर एजुकेशन और ट्रेनिंग अवार्ड्स कॉउंसिल (एफ़ईटीएसी) आयरलैंड की ओर से मान्यता प्राप्त है।
डिजिटल मार्केटिंग ट्रेनिंग इंस्टीट्यूट मुंबई में डिडिटल मीडिया मार्केटिंग में पोस्ट ग्रैजुएट प्रोग्राम उपलब्ध करवाता है। यह एक साल का फ़ुल टाइम प्रोग्राम वाला कोर्स है, जहाँ डिजिटल मीडिया की योजना और गतिविधि से जुड़े दूसरे पहलुओं पर ट्रेनिंग दी जाती है। इनका अपना प्लेसमेंट सेल भी है, जो इस कोर्स में हिस्सा लेने वालों को डिजिटल मार्केटिंग स्पेस में नौकरी दिलवाता है।
एडुप्रिसटाइन वित्त, लेखांकन और एनालिटिक्स के क्षेत्र में भारत का सबसे आगे रहने वाले संस्थान है, जो डिजिटल मार्केटिंग पर ट्रेनिंग देता है। ये 11 भारतीय शहरों में डिजिटल मार्केटिंग क्लासरूम कोर्स भी करवाते हैं। इस कोर्स में 12 हर इतवार को कुल 60 घंटों की डिजिटल मार्केटिंग पर ट्रेनिंग दी जाती है। यह 48 घंटों का ऑनलाइन कोर्स भी उपलब्ध करवाते हैं, जो कि पूरे 6 हफ़्तों तक चलता है। यह कोर्स पूरा होने के बाद भागीदारों को “माइक्रोसॉफ़्ट आईटी अकैडमी प्रोग्राम” की ओर से सर्टिफ़िकेट ऑफ़ एक्सिलेंस दिया जाता है।
दिल्ली स्कूल ऑफ़ इंटरनेट मार्केटिंग सभी फ़ॉर्मैट वाली बेहतर डिजिटल मार्केटिंग का कोर्स करवाता है, इसमें पेशेवरो, व्यवसाय के मालिकों और जॉब खोजने वाले लोगों को दिल्ली और बैंगलुरू के ट्रेनिंग सेंटर में लाइव क्लासरूम कोर्स करवाया जाता है। ये लोग निर्देशक की ओर से ऑनलाइन कोर्स में शनिवार और रविवार को भी हिस्सा लेते हैं। हालाँकी ये कोर्स पूरा करने वाले भागीदारों को कोई डिजिटल मार्केटिंग सर्टिफ़िकेशन नहीं देता है।
सिम्पली डिजिटल, को दिल्ली और गुड़गांव के आईआईटी के विद्यार्थी ने शुरू किया था, इसमें डिजिटल मार्केटिंग और बिग डेटा कोर्स उपलब्ध करवाए जाते हैं। इनके पास अपना एक प्लेसमेंट सेल होता है, जो डिजिटल मार्केटिंग के स्टार्टअप और किसी संस्थान में प्लेसमेंट करवाने के लिए इंटर्नशिप की सुविधा देता है।
13.) लर्निंग कैटेलिस्ट:
लर्निंग कैटेलिस्ट, मुबंई का एक संस्थान है, जिसमें वेब/मोबाइल/डिजिटल प्रोग्रामिंग की दिशान में मार्केटिंग, डिज़ाइन और तकनीकी बैकग्राउंड वाले लोगों को खास ट्रेनिंग दी जाती है। इनके भारत के 7 शहरों (मुबंई, दिल्ली, पुणे, अहमदाबाद, बेंगलुरु, चेन्नई और हैदराबाद) में अपने सेंटर हैं, जहाँ ये एसईएम, एसईओ, एसएमएम और 6 हफ़्तों का डिजिटल मार्केटिंग कोर्स करवाते हैं। ये लोग गूगल हैंगआउट्स पर भी ऑनलाइन कोर्स करवाते हैं।
डिजिटल नेस्ट हैदराबाद में बेहतर डिजिटल मार्केटिंग पर ट्रेनिंग कोर्स करवाता है। इस कोर्स में 48 घंटों की क्लासरूम ट्रेनिंग की सुविधा है, जहाँ आप सप्ताह के किसी भी दिन ट्रेनिंग के लिए आ सकते हैं। ये कॉर्पोरेट संस्थानों और शैक्षणिक संस्थाने के लिए वर्कशॉप/सैमिनार और वेबिनार की सुविधा भी देते हैं।
15.) सोशल समोसा:
सोशल समोसा, भारत की सबसे लोकप्रिय सोशल मीडिया न्यूज़ एंड इनफ़ोरमेशन पोर्टल में से एक है, जहाँ मुबंई में सोशल मीडिया, फ़ेसबुक और ट्वीटर मार्केटिंग पर वर्कशॉप करवाए जाते हैं। ये एक दिन वाले सेशन ऐसे लोगों के लिए मददगार होते हैं, जो स्पेस के बारे में बुनियादी बातें सीखना चाहते हैं।
भारत में उपलब्ध डिजिटल मार्केटिंग पर एग्ज़िक्यूटिव प्रोग्राम और मैनेजमेंट डेवलपमेंट प्रोग्राम
ऊपर बताए गए ज़्यादातर कोर्स विद्यार्थियों और काम करने वाले पेशेवरों के लिए सबसे अच्छे होते हैं। अगर आपके पास इस फ़ील्ड का 5 से 10 साल का अनुभव है और आप काफ़ी सीनियर ओहदे पर काम करते हैं, तो भी आप इस डिजिटल मार्केटिंग कोर्स को अपनाने का विकल्प चुन सकते हैं।
यह हैरानी की बात है कि भारत में एग्ज़िक्यूटिव या मैनेजमेंट डेवलपमेंट प्रोग्राम के लिए डिजिटल मार्केटिंग पर शिक्षा देने के लिए ज़्यादा बिज़नेस स्कूल सामने नहीं आ रहे हैं। ऐसे कुछ संस्थान जो इस दिशा में काम कर रहे हैं उनके बारे में नीचे बताया गया है और हमने कोशिश की है कि हम आपके लिए डिजिटल मार्केटिंग, ई-कॉमर्स और एनालिटिक्स से जुड़े मिले जुले प्रोग्राम लेकर आएँ। अगर आप इनमें से किसी भी प्रोग्राम में शामिल हुए हैं, तो कृपया नीचे अपनी टिप्पणियाँ ज़रूर दें।
आईएसबी हैदरावाद “डिजिटल एंड मीडिया मार्केटिंग स्ट्रैटेजीज़” नाम से 3 दिन का एग्ज़िक्यूटिव प्रोग्राम रकता है, इसकी फ़ीस 1,00,000 + जीएसटी है। यह खासतौर पर मार्केटिंग और प्लानिंग की फ़ील्ड वाले पेशेवर लोगों के लिए तैयार किया गया है। इस प्रोग्राम का उद्देश्य डिजिटल और सोशल मीडिया मार्केटिंग के बारे में खास जानकारी देना है और यह बताना है कि आप इससे आरओआई को किस तरह पा सकते हैं।
17.) इंडीयनइंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट, बैंगलुरू:
आईआईएम बैंगलुरू डिजिटल मार्केटिंग फ़ॉर बिज़नेस ग्रोथ नाम से एक प्रोग्राम चलाता है, जिसे वे अपने अकादमिक वर्ष में तीन बार संचालित करते हैं। इस प्रोग्राम का उद्देश्य डिजिटल मार्केटिंग के बारे में खास जानकारी देना है, इसमें अलग-अलग सोशल मीडिया, सर्च इंजन मार्केटिंग (सर्च एडवरटाइज़िंग और सर्च इंजन ऑप्टिमाइज़ेशन दोनों) और डिजिटल एनालिटिक्स के बारे में तकनीकी ज्ञान दिया जाता है। इस तरह से इसका उद्देश्य इस फ़ील्ड से जुड़ी खास चीज़ों की जानकारी देना है, ताकि ब्रैंड ज़्यादा लोगों का ध्यान खींच पाएँ और उन्हें बेहतर कन्वर्ज़न मिले। इसमें डिजिटल कैंपेन के परफ़ॉर्मैंस का पता लगाने के लिए एनालिटिक्स और उससे जुड़े आंकड़ों के बारे में बताया जाता है।
आईआईएम लखनऊ में लोकप्रिय प्रोफ़ेसर मौतसी मेती डिजिटल मार्केटिंग के प्रोग्राम में ट्रेनिंग देती हैं। इन्होंने ई-कॉमर्स, एम-कॉमर्स और सीआरएम पर काफ़ी शोध किया है, इसलिए प्रोग्राम की क्वालिटी बहुत ज़्यादा रहती है। इन्होंने इंडस्ट्री (नेलसन में) काम किया है और पेपसिको साथ ही ऐवरीडे बैटरीज़ जैसे क्लाइंट के साथ काम किया है, इसलिए इन्हें इस फ़ील्ड में बेहतर काम करने का काफ़ी अनुभव मिला है। हमें अभी उनसे प्रोग्राम पर ज़्यादा जानकारी नहीं मिली है, इसलिए हम जानकारी मिलते ही उसे यहाँ अपडेट कर देंगे।
19.) ग्रेट लेक्स इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट:
ग्रेट लेक्स, बिज़नेस एनालिटिक्स और बिज़नेस इंटेलिजेंस में काम करने वाले एग्ज़िक्यूटिव्स के लिए डिजिटल एनालिटिक्स का पोस्ट ग्रैजुएट प्रोग्राम उपलब्ध करवाता है। इस प्रोग्राम में क्लासरूम और ऑनलाइन दोनों तरह के सेशन की सुविधा है। इसमें एसएएस, आर, टेबल्यू जैसे टूल के बारे में जानने का मौका मिलता है। यह पूरा प्रोग्राम इंडस्ट्री के विशेषज्ञों ने तैयार किया है, इसमें विद्यार्थियों के उद्योग के पेशेवरों के टीम में प्रोजेक्ट पूरा करने का मौका मिलता है। यह कोर्स इस समय चेन्नई, बैंगलुरु, पुणे और गुड़गांव में करवाया जा रहा है।
ग्लोबल ऑनलाइन डिजिटल मार्केटिंग कोर्स
हूटसुइट, सोशल मीडिया का सबसे लोकप्रिय टूल है, इसमें हूटसुइट पोडियम नाम का प्रोग्राम करवाया जाता है, जिसमें सोशल मीडिया शेड्यूलिंग और ऑफ़र मॉनिटर करने के बारे में बताया जाता है। यहाँ छह मुफ़्त ऑनलाइन कोर्स के ज़रिए सोशल मीडिया मार्केटिंग की बुनियादी बातें बतायी जाती हैं। ये भुगतान लेकर एक सर्टिफ़िकेशन परीक्षा भी करवाते हैं, जिसके भागीदार सोशल मीडिया प्रोफ़ेशनल वाली हूटसुइट की पब्लिक डायरेक्ट्री का हिस्सा होते हैं।
हबस्पॉट अकैडमी मुफ़्त में इनबाउंड मार्केटिंग कोर्स करवाती है, इसमें मार्केट के लोगों, उद्योगपतियों और विद्यार्थियों को सर्टिफ़िकेट दिए जाते हैं। ये क्लासरूम ट्रेनिंग भी करवाते हैं, लेकिन सिर्फ़ अमेरिका में।
ऊपर बताए गए कोर्स के अलावा; ऑनलाइन साइटों पर कई और कोर्स भी उपलब्ध हैं, जिनमें गूगल डिजिटल अनलॉक्डऊडेमीऊडासिटीकोर्सऐरा और ग्यानएक्सचेंज शामिल हैं। अगर आप खुद सीखने वाले व्यक्ति हैं और डिजिटल मार्केटिंग में रुचि रखते हैं, तो आपके लिए कई डिजिटल मार्केटिंग ब्लॉग, लेख, किताबें और रिअल टाइम केस स्टडी की सामग्री उपलब्ध है। आप संबंधित लिंक्डइन समूहों में भी शामिल हो सकते हैं, ताकि आप उद्योग के विशेषज्ञों के साथ चर्चा में भागीदारी कर सकें और उनके साथ जुड़ सकें।
डिजिटल मीडिया मार्केटिंग एक ऐसी फ़ील्ड है, जहाँ सिर्फ़ कोर्स करने से या उद्योग के रुझानों को समझने से आप विशेषज्ञ बन सकते हैं। आप इस फ़ील्ड के बारे में ज़्यादा से ज़्यादा खुद काम करके और नौकरी के अनुभव से ही सीख सकते हैं। इसलिए इस कोर्स की सफ़लता डिजिटल पेशेवरों की योग्यता पर निर्भर करती है और इस पर निर्भर करती है कि वे अपने ज्ञान और डिजिटल कौशल को दूसरों के साथ कैसे शेयर करते हैं।

If You Enjoyed This, Take 5 Seconds To Share It

6 comments:

  1. Thanks for the content. I have got some important suggestions from it. The overall look of your website is fantastic, as well as the content!
    Digital marketing course in Delhi

    ReplyDelete
  2. Go through the whole article. Very much informative. Got some tips also. Thanks
    digital marketing training in aurangabad

    ReplyDelete
  3. If you want to increase your income as well as your skill
    then you have to join our institute in Delhi which is
    ABC mobile institute of technology which teaches you
    led lcd repairing course and lcd tv repairing coures in
    very cheap cost.

    lcd tv repairing course

    ReplyDelete
  4. Very useful information, thanks for sharing with us! 7 Seas Solutions provides top digital marketing services in India. We offers services such as maintain Websites, Social Media Marketing, PPC Campaign management, Content Development, 100% Ethical SEO Services including Search Engine Optimization, and much more.

    ReplyDelete